There was an error in this gadget

Search This Blog

Thursday, November 3, 2011


शब्दिका --
-------------------
पाकीक्रिकेटर
फिक्सिंग खेल में
ऐसे खो गए ----
सीधे
जेल में
फिक्स हो गए ---
-----------------------
प्रकाश प्रलय कटनी
------------------------
नीरव जी ,
नमन
आठ नवम्बर ११,तक
कविसम्मेलनीय यात्रा पर
रहने की वजह से ब्लॉग पर
अनुपस्थित रहूँगा ।--
शेष चर्चा ह्ललोहलो पर -----
-----------------------------------
प्रकाश प्रलय कटनी --------
---------------------------
०४-११-११-----
-------------------------
Post a Comment