There was an error in this gadget

Search This Blog

Tuesday, May 22, 2012

सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति का रचना पर्व


ब्रजेन्द्र त्रिपाठी
साहित्य शिरोमणि पं. दामोदरदास चतुर्वेदी सम्मानः2012
अलंकृत विभूतियां
गोरखपुर में जन्मे ब्रजेन्द्र त्रिपाठी कविता में मानवीय मूल्यों के पक्षधर हैं। तलाश काव्य संग्रह से शुरू की सृजन यात्रा में गुजराती सिंधी और अंग्रेजी साहित्य के क्लासिक्स के  अप्रतिम अनुवाद इनके खाते में दर्ज़ हैं। भारतीय अनुवाद परिषद की पत्रिका अनुवाद तथा साहित्य अकादेमी की पत्रिका समकालीन भारतीय साहित्य में पांच साल तक संपादन सहयोग के साथ ही साहित्य अमृत के आप मानद परामर्शदाता हैं। अनेक साहित्यिक संस्थाओं से सम्मानित श्री त्रिपाठी संप्रति संस्कृति मंत्रालय,भारत सरकार की साहित्य अकादेमी के उप सचिव हैं।
मोबाइलः09891480601



लक्ष्मणस्वरूप शर्मा जी ने बहुत ही पॉजिटिव बात कही है। मैं उनकी बात का समर्थन करता हूं। ऊर्जा का रूपांतरण हो जाए तो वह रचनात्मक कमाल करती है।
Post a Comment