There was an error in this gadget

Search This Blog

Saturday, August 20, 2011

हर जननी यह कहे  कोख से ,
अन्य न कोई  जातक जनना 
गर है जनना, तो तुम  जनना
केवल अन्ना

घनश्याम वशिष्ठ
Post a Comment