Search This Blog

Tuesday, September 27, 2011

शहीद भगतसिंह के बलिदान की मशाल ने ही महात्मा गाँधी के व्यक्तिव को राष्ट्रपिता के रूप में आलोकित किया.भगतसिंह ने ही सबसे पहले पंडित रामप्रसाद बिस्मिल के लिए कीरति में लेख लिखा .आज उस अद्भुत बलिदानी का जन्मदिन सभी को देश पर सब कुछ न्योछावर करने की प्रेरणा देगा .इन्कलाब जिंदाबाद.
अरविन्द पथिक
Post a Comment