There was an error in this gadget

Search This Blog

Friday, November 25, 2011

शादी के बहाने

शादी के अवसर पर घर की महिलाएं भित्तिचित्र बनाती हैं जिसे अमला कहते हैं
गीत-संगीत और दीवारों पर शुभंकारी चित्रों का बनाना और फर्श पर रांगोली काढ़ना भारतीय शादी की परंपरा है। जो हमारी संस्कृति को और ललित कलाओं को पीढ़ी-दर-पीढ़ी पहुंचाती है। शादी हमें उत्सव का आनंद तो देती ही है आनंद के साथ-साथ सद्भभाव के सूत्रों को भी इतना प्रगाढ़ कर देती है कि तब गालियां भी गीत की शक्ल में झरती हैं। हमारे आंगन में उत्सव पूरी शिद्दत के साथ उतरा है। मित्रों ने शुभकामनाओं की बारिश में सराबोर कर दिया है। मैं सभी का आभारी हूं।

दो सितारों का जमीं पर है मिलन

Post a Comment