There was an error in this gadget

Search This Blog

Saturday, November 19, 2011

कवि सम्मेलन का आयोजन


कल इंडियन आयल कारपोरेशन  नई दिल्ली ने एक अंतर्विभागीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया जिसमें निर्णायक के रूप में पं०सुरेश नीरव,महेंद्र अज़नवी तथा अरविंद पथिक अर्थात मुझे भी आमंत्रित किया गया।
लगभग ४० कवियों के काव्य पाठ के उपरांत महेंद्र अज़नवी ने ठीकठाक और पं०सुरेश नीरव ने शानदार काव्य पाठ किया।संयोजक टंडन जी के अनुसार अरविंद पथिक का काव्यपाठ जानदार रहा।
कुछ कवियों ने वीर रस की व कुछ ने हास्यरस के स्वनामधन्य कवियों की रचनाओं का पाठ कर साहित्य की चौर्य-परंपरा का भी बखूबी निर्वहन किया तो कुछ करगिल का उच्चारण कारगिल तथा कश्मीर का काश्मीर उच्चारण कर मंच के अनपढ और मूर्ख कवियों की परंपरा का भी निर्वहन कर रहे थे।अपने काव्यपाठ से पूर्व मैने जब इस तथ्य की ओर ध्यान खींचा तो सभी ने सहमति से सिर हिलाया मानो उन्होने ने सर्वसम्मति से मुझे ही इस काम की सुपारी  दे रखी थी।एक कवि ने तो रश्मि रथी में वर्णित कृष्ण के विराट रूप का ही अपनी कविता मे कुछ इस मुद्रा में वर्णन किया मानो दिनकर जी उसकी कविता चोरी कर ले गये हों।कुल मिलाकर कार्यक्रम सफल रहा।
Post a Comment