There was an error in this gadget

Search This Blog

Tuesday, August 14, 2012

एक ऐतिहासिक शब्दयग्य

ग्वालियर में 11-12 अगस्त 2012 को श्री पीयूष चतुर्वेदीजी ने आदरणीय शब्दऋषि पंडित सुरेश नीरवजी  के सान्निध्य में अखिल भारतीय  सर्वभाषा  संस्कृति समन्व समिति का एक  ऐतिहासिक शब्दयग्य का आयोजन  किया  जिसको गालिवऋषि   की तपोभूमि ग्वालियर में सदैव याद  किया जाएगा. इस यग्य में सारे  देश से गणमान्य एवं  विशिष्ट शब्द रचनाकारों ने अपनी रचनाओं के द्वारा आहुति प्रदान की और इस पवित्र  शब्दयग्य की   धूप को अपने कर कमलों से सारे देश में  फलोप्राप्ति हेतु फैलाया. मैं श्री पीयूष चतुर्वेदीजी को तो बधाई देता ही हूँ और आदरणीय श्री नीरवजी को  भी बधाई देता हूँ जिनका वरदहस्त श्री चतुर्वेदीजी के सिर पर विराजमान  है.मेरे नमन.


Post a Comment