There was an error in this gadget

Search This Blog

Monday, May 20, 2013

आँखें भी क्या खूब करामाती हैं ,
बिना छुए ही छुवन का अहसास  दे जाती हैं .
घनश्याम वशिष्ठ

Post a Comment