Search This Blog

Monday, April 18, 2011

शव्दिका



दुनिया मे



आनंद का



रस



उसी ने



चखा है ......



जिसके सर पर



माँ नै



हाथ रखा है .....



प्रकाश प्रलय कटनी /.................



Post a Comment