There was an error in this gadget

Search This Blog

Wednesday, September 14, 2011

आशिर्वाद बनाये रखिए

आदरणीय नीरवजी ने मेरी कल प्रेषित पोस्ट की सराहना की है उसमें गद्य-गीत की मिठास और आशीर्वाद का पीयुष मिश्रित है। धन्यवाद या आभार छोटे शब्द हैं ।यही कह सकता हू कि आशिर्वाद बनाये रखिए'
एक समाचार यह है कि मुझे आज ही भाऊराव देवरस सेवान्यास के सचिव वीरेंद्र जी ने लखनऊ से मोबाइल पर सूचना दी है कि बिसमिल चरित के लिए राष्ट्रीय युवाकवि का सम्मान -२०११ मुझ अकिंचन को ४अक्टूबर को प्रदान किया जायेगा।
अरविंद पथिक
9910416496
Post a Comment