Search This Blog

Tuesday, September 20, 2011

मकबूल प्रलय लाते हैं

जनाब मकबूलजी,
आपके तजुर्बों से लवरेज सलाह कि जाम सोडा मिलाकर पीना बहुमूल्य सलाह है। आपने इसे जनहित में जारी करके बड़ा कल्याणकारी काम किया है। और मैंने सोडा खरीद भी लिया है। बाकी इंतजाम कौन करेगा। वैसे जो सलाह दे ये काम भी उसी का है। अच्छी गजल  और बेहतरीन सलाह के लिए बधाई..
0000000000000000000000000000000000000000
टोपी पर सारी राजनीति टिकी है।
टोपी के खातिर इंसानियत बिकी है
 प्रलयजी आपने टोपी पर बेहतरीन कविता लिखी है
बधाी..
पंडित सुरेश नीरव
Post a Comment