There was an error in this gadget

Search This Blog

Wednesday, September 21, 2011


अग्रज नीरव जी ;
कोटी -कोटी नमन '----
आपके हर पोस्ट में
बहुत वजनदारी होती हैं ---
तभी तो हल्के स्तर की
आत्माएं सदा रोती हैं ----
साहित्य के लिए
जो कार्य आप कर रहे हैं ---
वन्दनीय है *******----
प्रणाम --------------
--------------------------
प्रकाश प्रलय कटनी -----------
---------------------------------------
Post a Comment