There was an error in this gadget

Search This Blog

Tuesday, September 27, 2011

जीवन में न सही अहसास में ज़िंदा हैं 
नाकाम आशिकों के इतिहास में ज़िंदा हैं 

घनश्याम वशिष्ठ
Post a Comment