Search This Blog

Friday, December 30, 2011

सबकी हो पौ बारह 12 में


ओ मेरी चंपाकली,रहना यूं ही खिली मेरे गुलशन में तू हेप्पी न्यूइयर टू यू
अपनी उनको
हैप्पी न्यू इयर 
टू यू..
ओ मेरी चंपाकली
लगी ऐसी भली
कार डीजल बिना जैसे मीलों चली
डेंट ढेरों सहे 
पुर्जे घिसते रहे
लागे फिर भी तू न्यू हैप्पी न्यू इयर टू यू..

ओ मेरे बच्चों की मां कोई नगमा सुना
तेरे हाथों बजे 
इश्क का झुनझुना
सुन जिसको कलेजा 
लगे भुभुना
ऐसी रुनझुन है तू 
हैप्पी न्यू इयर टू यू..

ओ कॉपी इंग्लिश की तू उसकी घिचपिच भी तू
देती सर्विस भी तू 
करे डिसमिस भी तू
बेल किसमिस की तू 
ट्यून क्रिसमस की तू
उसकी टुनटुन भी तू हैप्पी न्यू इयर टू यू..

 तू है चौकी पुलिस तेरा थाना हूं मैं
तो जो लॉकअप हुई मालखाना हूं मैं
तू है सौणी हंसी मर्दाना हूं मैं
मेरी चुनमुन है तू हैप्पी न्यू इयर टू यू..
पंडित सुरेश नीरव

Post a Comment