There was an error in this gadget

Search This Blog

Monday, December 26, 2011

हंसते-हंसते फांसी के फंदे पर झूल गए


शहीद ऊधम सिंह
ज़रा याद इन्हें भी कर लो
 देश में चुनावी नौटंकी फिर शुरू होने को है। इस देश को आजाद कराने के लिए अपने प्राणों का उत्सर्ग करनेनाले उन शहीदों को याद करने का शऊर दुनिया के इस बहुत बड़े लोकतंत्र देश को अभी तक नहीं आया। आज के ही दिन यानी 26 दिसंबर 1899 को पंजाब में ऊधमसिंह का जन्म हुआ था। जिन्होंने 13 अप्रैल1919 को जलियावालां बाग में हुई ब्रतीनिया हुकूमत की बर्बरता का बदला लेने की शपथ स्वर्ण मंदिर में जाकर खाई थी और लंदन जाकर अपनी कसम शान से पूरी की,साइमन को गोली मारकर। और फिर हंसते-हंसते फांसी के फंदे पर झूल गए। सीना तानकर हम इस वीर के बलिदान को अपना सर झुकाते हैं।
Post a Comment