Search This Blog

Tuesday, January 17, 2012

धन्यवाद

पंडित सुरेश नीरव जी से दोहों का मूल्यांकन पा कर धन्य हुआसाथ ही गणतंत्र दिवस कवि सम्मलेन के चित्र देख कर अति प्रसन्नता हुईवर्ष भर ऐसे ही छाए रहें यही कामना है
सादर

-राजमणि
Post a Comment