Search This Blog

Thursday, March 22, 2012

आयकर विभाग ने किया रंगारंग हास्य कविसम्मेलन


आयकर विभाग ने किया रंगारंग हास्य कविसम्मेलन
नईदिल्ली भारत सरकार के आयकर विभाग द्वारा राजभाषा शिविर के अंतर्गत एक सरस कविसम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसका उदघाटन आयकर महानिदेशक श्री टीवीसी रोज़ारा ने किया तथा संचालन सुप्रसिद्ध हिंदी कवि एवं पत्रकार पंडित सुरेश नीरव ने किया। कवि सम्मेलन की शानदार शुरूआत प्रसिद्ध हास्य-व्यंग्य कवि महेन्द्र अजनबी ने भूतों पर लिखी अपनी प्रसिद्ध कविता से की। इसके बाद वीर रस के कवि अरविंद पथिक ने  अपनी ओजस्वी कविता-मैं अंगार लिखता हूं, सुनाकर श्रोताओं से भरपूर दाद बटोरी। इसके बाद ग्वालियर से आए हास्य कवि अमित चितवन ने समां बांधा। अपने  चुलबिले अंदाज़ में कविता पाठ के लिए जानेवाले वेदप्रकाश वेद ने मिलावट की संस्कृति पर खूब जमकर करारे व्यंग्य किए। इसके बाद जहां रजनीकांत राजू ने अपनी कविताओं से श्रोताओं को गुददुदाया तो वहीं कविसम्मेलन के अंत में संचालन कर रहे पंडित सुरेश नीरव ने अपने मौलिक और अल्हड़ अंदाज़ में हास्य कविताओं और हास्य ग़ज़लों से कविसम्मेलन को बुलंदियों पर पहुंचा दिया। इस अवसर पर आयकर विभाग के अशोक मनचंदा, अमिता कपूर,नीना कुमार,वेदप्रकाश सिंह ने राजभाषा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए विभाग के कर्मचारियों को पुरस्कृत भी किया। इस विभागीय कार्यक्रम का सफल संचालन  श्रीमती अनिता राकेश ने किया।
Post a Comment