There was an error in this gadget

Search This Blog

Tuesday, March 27, 2012

आदरणीय नीरव जी *
नमन 
---------------------------
आपके दिमाग में
प्रभु ने कितना मैटर रखा है /
देख सुन कर हैरान है ----
त्वरित वातावरण पर 
बेहतर लिख देना ,,ये कमाल 
बस आप ही कर सकते है ------
नमन  ही नमन --------
------------------------------------
प्रकाश  प्रलय  कटनी --
-------------------------------------------
Post a Comment