Search This Blog

Tuesday, March 27, 2012

स्कंदमाता का दिन है आज





आज नवरात्रि का चौथा दिन है।
 तिथि है पंचमी। कल भी तिथि पंचमी ही रहेगी। क्योंकि नवरात्रि का अबकी बार एक दिन बढ़ा हुआ है। आज स्कंदमाता का दिन है। इनका निवास सूर्य के भर्ग में है। और रुप वातसल्य का है। स्कंद की माता होने के कारण यह स्कंदमाता कहलाती हैं। मां हम सभी को अपना प्यार दें इसी कामना के साथ,

शुभ नवरात्रि..
पंडित सुरेश नीरव
Post a Comment