Search This Blog

Thursday, June 28, 2012

समुद्रतल से तेरह हजार फीट की ऊंचाई पर हुआ पुस्तक लोकार्पण

अखिल भारतीय सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति
श्रीनगर में काव्योत्सव
समुद्रतल से तेरह हजार फीट की ऊंचाई पर हुआ पुस्तक लोकार्पण

अखिल भारतीय सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति की उत्तराखंड इकाई के संयोजक श्री नीरज नैथानी की काव्यकृति हिमप्रभा का लोकार्पण गढ़वाल विश्वविद्यालय के सभागार में दिनांक 26 जून को अपरान्ह 11.30 बजे आयोजित किया गया। पुस्तक का लोकार्पण अखिल भारतीय सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुप्रसिद्ध हिंदी कवि एवं पत्रकार पंडित सुरेश नीरव ने किया। अध्यक्षता गढ़वाली के प्रसिद्ध लोकगायक नरेन्द्र नेगी ने की। इस अवसर पर काव्य महोत्सव का भी आयोजन किया गया जिसमें अखिल भारतीय सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति की मध्यप्रदेश इकाई के संयोजक पीयूष चतुर्वेदी, राष्ट्रीय सचिव अरविंद पथिक और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रजनीकांत राजू तथा गणेश खुगशाल गणी के अलावा अन्य अनेक प्रतिष्ठित कवियों ने कविता-पाठ किया। अतिथियों का स्वागत प्रौढ़ सतत शिक्षा एवं प्रसार विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर अऱुण बहुगुणा ने किया। इस अवसर पर काव्य एवं जनसरोकार विषय पर विचार गोष्ठी भी हुई जिसमें डॉक्टर सरिता पंवार प्रो.उमा मैठानी एवं प्रोफेसर एस.एस.रावत ने भाग लिया। कार्यक्रम का सफल संचालन डॉक्टर राजेश भट्ट ने किया। दूसरे दिन समुद्रतल से तेरह हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित शिवतीर्थ तुंगनाथ तीर्थभूमि के सारस्वत परिवेश में मंत्रोच्चार के साथ नीरज नैथानी की दूसरी पुस्तक हिमालय पथ पर पथारोहण वृतांत का भी लोकार्पण श्री नीरव ने किया। इस अवसर पर गढ़वाल प्रांत के अनेक साहित्यकार एवं मीडियाकर्मी उफस्थित थे।
Post a Comment