There was an error in this gadget

Search This Blog

Sunday, September 2, 2012

अखिल भारतवर्षीय ब्राह्मण महासभा


आपसी सदभाव देश की सबसे बड़ी जरूरत
नईदिल्ली-अखिल भारतवर्षीय ब्राह्मण महासभा और जीएनएन मीडियानेटवर्क के संयुक्त तत्वावधान में  01 सितंबर को रफीमार्ग दिल्ली के कंस्टीट्यूशन क्लब में सायं 5.00 बजे, ब्रह्मरत्न अलंकरण समारोह जीएन.एन मीडिया ग्रुप के अमृतवाणी रेडियो शुरू किये जाने के अवसर पर आयोजित किया गया। लास्टसंडे और इंडियाअहा के संपादक अनिल शर्मा इस समारोह के संयोजक थे। मुख्य अतिथि ज्योतिषमठ,बदरिका आश्रम के शंकराचार्य श्री माधव आश्रम ने अपने दिव्य उदबोधन में कहा कि हमारा देश भारत विभिन्नता में एकता की संस्कृति का हमेशा से संवाहक रहा है। आज कुछ विघटनकारी शक्तियां हमारे इस सांस्कृतिक तानेबाने को धिन्न-भिन्न करने की कोशिश में जुटी हैं। ऐसे दौर में यह जरूरी हो जाता है कि हम  देश में सदभाव का वातावरण बनाएं। अनिल शर्मा ने अमृतवाणी रेडियो शुरू कर के इस दिशा में एक प्रशंसनीय पहल की है।  भजन सम्राट अनूप जलौटा ने पहले अपने भजन की प्रस्तुति दी और फिर अपने वक्तव्य के जरिए बताया कि शब्द की ताकत संसार में सबसे अधिक है। शब्द ही मंत्र हैं और शब्द ही वैमनस्य का कारण भी। अमृतवाणी रेडियो सदभाव की इस दिशा में एक उल्लेखनीय प्रतिमान बनाएगा ऐसा मेरा विश्वास है। दूरदर्शन न्यूज के महानिदेशक श्री एस.एम.खान ने  देश में भाईचारे और आपसदारी के विकास में कहा कि मीडिया की जिम्मेदारी सबसे अहम होती है। मीडिया अपनी जिम्मेदारी समझते हुए अपना काम करे तो अफवाहें कभी नहीं फैल सकतीं। उन्होंने कहा कि हमें फक्र है कि दूरदर्शन इस मामले में सबसे जिम्मेदार माध्यम सिद्ध हुआ है। मुझे यकीन है कि अमृतवाणी रेडियो भी अच्छे विचारों और कार्यों को जनता तक पहुंचाएगा। सुप्रसिद्ध समाज सेवी डॉक्टर भाई महावीर ने कहा कि बहुत बलिदानों के बात हमने यह आजादी पायी है। नफरत और सांप्रदायिकता इसे कमजोर न कर सके मीडिया को इस पर गहरी नजर रखनी होगी। हमें विश्वास है कि अमृतवाणी रेडियो इस जरूरत को जरूर पूरा कर सकेगा। अमृतवाणी रेडियो के संचालक अनिल शर्मा ने कहा कि मीडिया के जरिए देश में सर्व-धर्म-समभाव का वातावरण बनाने का मेरा संकल्प है। हर अच्छे काम में शुरू में कठिनाइयां आती हैं मगर अंत में यदि इरादा पक्का हो तो सफलता जरूर मिलती है। आपलोगों के सहयोग से हम अपने लक्ष्य को जरूर हासिल करेंगे ऐसा मेरा विश्वास है। कार्यक्म का गरिमामय संचालन लब्ध-प्रतिष्ठ हिंदी कवि एवं पत्रकार पंडित सुरेश नीरव ने किया। समारोह के द्वितीय चरण में साहित्य, कला, चिकित्सा और अध्यात्म के क्षेत्र में उल्लेखनीय सेवाओं के लिए सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित सुरेश नीरव के अलावा आकाशवाणी के निदेशक डॉ.लक्ष्मीशंकर वाजपेयी, गौड़ टाइम्स के संपादक बी.एल.गौड़,राममनोहर लोहिया हॉस्पीटल के चिकत्सकीय सलाहकार डॉक्टर निशीथ चतुर्वेदी समेत ग्यारह लोगों को उनकी उल्लेखनीय सेवाओं हेतु ब्रह्मरत्न सम्मान से अलंकृत किया जाएगा। आभार प्रदर्शन अखिल भारतवर्षीय ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित महेशदत्त शर्मा ने किया।

Post a Comment