Search This Blog

Thursday, October 18, 2012

वैश्विक समस्या पर गंभीर होकर सोचना ही पड़ेगा

आज प्रकाश प्रलयजी ने अपनी पोस्ट में अमानवीय प्राकृतिक संसाधनों के शोषण पर चिंता व्यक्त करते हुए कटनी में आए भूचाल का उल्लेख किया है। और आगाह किया है कि अगर हमने पृथ्वी के अमानुष-दोहन को समय रहते रोका नहीं तो विध्वंस तय है। यकीनन हमें इस वैश्विक समस्या पर गंभीर होकर सोचना ही पड़ेगा।
-पंडित सुरेश नीरव
Post a Comment