There was an error in this gadget

Search This Blog

Monday, January 7, 2013

मुंबई में हुए काव्योत्सव


परिवार संस्था का 22वां काव्य महोत्सव
मुंबई-5 जनवरी महानगर की प्रतिष्ठित साहित्यक संस्था परिवार का 22वां अखिल भारतीय काव्योत्सव मेरीन लाइंस स्थित बिड़ला मातुश्री सभागार में आयोजित किया गया। जिसका साहित्यिक संचालन श्री देवमणि पांडे ने किया। श्रोताओं से खचाखच भरे सभागार में काव्योत्सव का शुभारंभ पंडित सुरेश नीरव के सारस्वत कविता पाठ से हुआ। और इसके बाद कमान संभाली कवयित्री डॉक्टर अनु सपन ने। व्यंग्य कविताएं पढ़ी तेजनारायण बेचैन ने और फिर आज के परिवेस पर केंद्रित कविताएं पढ़कर समां बांधा हरिओम पंवार ने। यह प्रतिष्ठित कवि सम्मेलन पूरे तीन घंटे तक चला।
000000000000000000000000000000000000000000000000000000000
सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति
मुंबई में हुई काव्यसंध्या
मुंबई-6 जनवरी,मायानगरी मुंबई में महानगर के लब्ध प्रतिष्ठ रचनाकारों का हिंदी की सुकवयित्री कविता गुप्ता के विलेपार्ले(पश्चिम) स्थित निवास स्थान पर मधुर सम्मिलन हुआ। अवसर था सर्वभाषा संस्कृति समन्वय समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित सुरेश नीरव के नगर में आने का। इस महती काव्यसंध्या में महानगर के रंगकर्मियों और सृजनकारों ने अपनी रचनात्मक उपस्थित दर्ज कराई। जिनमें प्रमुख थे- सर्वश्री देवमणि पांडे, हस्तीमल हस्ती, शेखर सेन, गिरीश मिश्र, शेफाली मिश्र, विनोद दास, डूबनाथ,रचना भंडारी, विनिता दास, कविता गुप्ता, अशोक बिंदल, सपना मित्तल, दिनेश गुप्ता, दीप्ति मिश्रा, नेहा वैद, अनिल जीनगट और कैलाश सेंगर। दो घंटे चली इस रसमय गोष्ठी में गीत-ग़ज़ल और छंदमुक्त कविताओं के इंद्रधनुषी रंगों ने काव्य संध्या को और रसमय बना दिया।
Post a Comment