Search This Blog

Sunday, March 10, 2013

डॉक्टर कर्ण सिंहजी की 83वीं वर्षगांठ

डॉक्टर कर्ण सिंहजी की 83वीं वर्षगांठ
एक सात्विक दिनांक
माननीय डॉक्टर कर्ण सिंहजी की 83वीं वर्षगांठ पर धर्मगुरु दलाईलामा से लेकर दुनिया के तमाम देशों के राजदूत ने उनको दीर्घायु की मंगल कामनाएं दी। मेरा सौभाग्य है कि एक संस्कृति पुरुष ने मुझे भी शिवरात्रि के सारस्वत संदर्भ में इस उत्सव में शरीक किया। और मेरी पुस्तक उत्तर प्रश्नोपनिषद पर न केवल सार्थक चर्चा की बल्कि अपनी एक हिदी कविता सुनाकर आज की सात्विक संध्या को अविस्मरणीय बना दिया। सुकवि अरविंद पथिक ने इस मौके पर माननीय डॉक्टर कर्ण सिंहजी को अखिल भारतीय संस्कृति समन्वय समिति का साहित्यिक-कलैंडर भेंट किया। संस्कृति और राजनीति के इस सेतु-पुरुष के दीर्घायु की मंगल कामनाएं।
Post a Comment