There was an error in this gadget

Search This Blog

Sunday, January 23, 2011

सर्वे भवन्तु सुखिनः

ॐ सर्वे भवन्तु सुखिनः, सर्वे सन्तु  निरामयः 
सर्वे  भद्राणि  पश्यन्तु, मा कश्चिद दुखभाग भवेत्.
नेताजी के जन्मदिवस पर जयलोक मंगल के सदस्यों को बधाई..
इजिप्त यात्रा के सुखद समाचार ने पंडितजी बहुत आनंद दिया। और इधर जो नोंकझोंक का माहौल बना उसने जता दिया कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का मतलब क्या होता है। परिवार में थोड़ी बहुत चिल्ल-पौं स्वाभाविक है। पर ज्यादा नहीं। वरना घर की बात मुहल्ले का मनोरंजन बन जाती है। सभी समझदार हैं। मेरे निवेदन को सही भावना से ही लेंगे..ईश्वर सभी को प्रेम और मय प्रदान करे..
ओमप्रकाश चांडाल
Post a Comment