Search This Blog

Thursday, April 21, 2011

क्या यही है लोकतंत्र। ज़रा सोचें..
 अभी हाल में जो 2-जी-स्पैक्ट्रम घोटाला हुआ हैं उसके बारे में  कभी सोचा है आपने कि इससे देश के हरेक नागरिक को कितना नुकसान हुआ है। घोटाले की कुल राशि है-1,76 हजार करोड़। और देश की आबादी है-121 करोड़। यानि कि प्रत्येक भारतीय नागरिक के हिस्से में 1454.54 करोड़ रुपए आते हैं। हर नागरिक घर बैठे करोड़पति हो सकता था। मगर हर भारतीय नागरिक का हिस्सा ये चोर नेता खा गए। क्या यही है लोकतंत्र। ज़रा सोचें..
-सुरेश नीरव सुरेश नीरव सुरेश नीरव सुरेश नीरव सुरेश नीरव
Post a Comment