Search This Blog

Wednesday, August 17, 2011

निरंकुश सरकार की लगाम, एक जुट जनता के सशक्त हाथों में होती है ..
जनता को यह सच्चाई जाननी चाहिए 

लोकतंत्र है खुद को जानो प्रथम हो तुम मतदाता हो
सत्ताधारी  कृति  तुम्हारी  ,तुम  सत्ता   निर्माता  हो

घनश्याम वशिष्ठ

Post a Comment