There was an error in this gadget

Search This Blog

Friday, October 28, 2011

श्रीलाल शुक्ल का निधन

रागदरबारी के अमर रचनाकार श्रीलाल शुक्ल का निधन हिंदी कथा साहित्य की अपूरणीय क्षति है।  व्यवस्था में नीचे से लेकर ऊपर तक व्याप्त भ्रष्टाचार और पाखंड को अपनी विशिष्ट शैली में उज़ागर करने वाले श्रीलाल शुक्ल को 'रागदरबारी' तथा 'विश्रामपुर का संत ' जैसी अमर कृतियों के लिए हमेशा याद किया जायेगा।
अरविंद पथिक
Post a Comment