There was an error in this gadget

Search This Blog

Thursday, December 29, 2011

शब्दिका ---
----------------------
बारह के 
स्वागत में 
मंहगाई के 
वन्दनवार 
सज रहें हैं ----
चेहरे पर 
बारह 
बज रहे हैं ---
***************
स्वागत स्वीकारें 
हमारा -------
१२--१२--१२--
-----------------------
प्रकाश प्रलय कटनी 
------------------------
**********************
*************************** 

Post a Comment