There was an error in this gadget

Search This Blog

Thursday, December 22, 2011

शब्दिका --
*****************
रूपये का 
स्तर 
आदमियत के 
स्तर से 
छला गया ****
शर्म से 
काफी नीचे 
चला गया *******
**************
प्रकाश प्रलय कटनी 
******************
Post a Comment