Search This Blog

Sunday, March 4, 2012

दुनिया रंगीली लग रही होली के रंग में

दुनिया रंगीली लग रही होली के रंग में
कल्लो कटीली लग रही होली के रंग में।

अब भंग की तरंग का कुछ ऐसा रंग है
हर शै नशीली लग रही होली के रंग में।

जीजा शिरी फुदक रहे साली के संग में
छमिया छबीली लग रही होली के रंग में।

ये भंग की तरंग है या जाम का नशा
बुढ़िया नवेली लग रही होली के रंग में।

इस फाग की मस्ती में सभी टुल हो गए
मिर्ची रसीली लग रही होली के रंग में।

मक़बूल इन रंगों की क़यामत तो देखिये
कैसी सजीली लग रही होली के रंग में।
मक़बूल
Post a Comment