There was an error in this gadget

Search This Blog

Sunday, August 5, 2012

एक रचनात्मक अनुष्ठान

सतमोला कवियों की चौपाल
सतमोला कवियों की चौपाल में काव्यपाठ करते पंडित सुरेश नीरव
सतमोला कवियों की चौपाल
शायद ही ऐसा कोई चैनल बचा हो जिस पर मैंने कविता पाठ नहीं किया हो। लेकिन बहुत दिनों से साधना टीवी पर भाई प्रवीण आर्य द्वारा पिछले आठ सालों से किये जा रहे सतमोला कवियों की चौपाल में कविता पाठ करके कल मुझे बड़ा सात्विक सुख मिला। क्योकि प्रवीण आर्य के लिए यह कार्यक्रम महज़ कार्यक्रम नहीं है बल्कि एक रचनात्मक अनुष्ठान है। प्रसिद्ध कवियों के साथ-साथ दूरदराज के नवोदित कवियों को मंच प्रदान करना उनका संकल्प है। जिसे वे पूरी निष्ठा से निभा भी रहे हैं। यह कार्यक्रम एक अलग ढंग से हिंदी के प्रचार-प्रसार का महत्वपूर्ण कार्य कर रहा है। कल के कवि सम्मेलन में मेरे साथ श्री बी.एल.गौड़,अरुण सागर,डॉक्टरओमपाल सिंह निडर,अरविंद पथिक मोहन द्विवेदी,ममता किरण और पूनम माठा ने कविता पाठ किया। सफल संचालन कविवर प्रवीण आर्य ने किया।
Post a Comment